Hindi

Mallika Mallika Lyrics in Hindi |मल्लिका मल्लिका

Mallika Mallika Lyrics in Hindi Ramya Behara’s song is in Hindi and is from the movie Shaakuntalam (2023).  The song’s lyrics were written by Prashant Ingole, and Mani Sharma provided the music. featuring Dev Mohan and Samantha. 

Mallika Mallika Lyrics in Hindi

Song Details :

Song Name : Mallika Mallika
Singer : Ramya Behara
Music Director: Mani Sharma
Lyricist: Prashant Ingole

Mallika Mallika Lyrics in Hindi

मल्लिका मल्लिका मालति मालिका
है कहां है कहां राजा इस दिल का है

मल्लिका मल्लिका मालिति मालिका
है कहां है कहां राजा इस दिल का है
हमसिका हमसिका जाओ न हमसिका
अपने संग लाओ न राजा इस दिल का

एक छोटा सा फूल मेरे भीतर खिला
आज तो प्यार का लो जी त्योहार है

आहा नीवेनी फूलों की तरह खिली
राजा आएंगे जब खुद को भेंट करना

जहां पे मिलते हैं ऋषि मुनि
वहां पे प्यार खिला

मधुर मिलन ये सपनो का
शुभ ही शुभ होगा
स्वप्निका चैत्रिका ओ प्रिये नेत्रिका
है कहां है कहां राजा इस दिल का है

बदलो तुम चलो तुम चलो
बदल तुम चलो स्वामी से जब मिलो
बारीशों वीणा बन प्रेम गीत गाओ ना
प्रिये की कोख में नन्ही जान है पाली
जल्दी आने कहो राह दिखलाओ ना

जगमगती हुई आज की रात है
चांदनी की तरह अपना ये प्रेम है

रातस आसमान में तारों ने बनाया

धरती पे दिलों का मौसम जगमगया
फूल कलियों की चारणों में
मन ये भीग जाए है
ओर कमल नैना प्रेम यही है समझ
सूखे पटों सा है आश्रम वासी दिल
उनके आने की आस पर जिंदा है

हे प्रिये हे प्रिये प्रीत क्यूं चादर है
मेरे मन की तरह धरती भी डांग है
जितनी भी बर्फ हो जितने भी दर्द हों
क्या नन्ही सी जान की सुरक्षा करो

उम्मीदों के सभी पत्ते मुर्झ गए
जब ये फूलेंगे मैं खिलूंगी क्या
सर्दी से क्या लेना जब आई गोदभराई
चिंता न करो प्रिये खुद में तुम बसंत हो

माह माह है बीट गए
लहर लहर की तरह
सदा रहे जो खिलता हुआ
रत्न जन्म दो

रह वो देख के आंखें ठक सी गई
दिल को उम्मीद है आएंगे वो अभी।

मल्लिका मल्लिका मालती मालिका
है कहा है कहां राजा इस दिल का-2
हमसिका हमसिका जाओ न हमसिका
अपने संग लाओ ना राजा इस दिल का

एक छोटा सा फूल
मेरे भीतर खिला
आज तो प्यार का लो जी त्योहार है
आहा नीवेनी फूलों की तरह खिली
राजा आएंगे
जब खुद को भेंट करना
जहां पे मिलते हैं ऋषि मुनि
वहां पे प्यार खिला
मधुर मिलन ये सपनों का
शुभ ही शुभ होगा
स्वप्निका चैत्रिका ओ प्रिये नेत्रिका
है कहां है कहां राजा इस दिल का

बदलो तुम चलो
बदलो तुम चलो
स्वामी से जब मिलो
बारिशो वीणा बन प्रेम गीत गाओ ना
प्रिये की कोख में
नन्ही जान है पली
जल्दी आने कहो राह दिखलाओ ना
जगमगती हुई आज की रात है
चांदनी की तरह अपना ये प्रेम है
रास्ता आसमान में तारो ने बनाया
धरती पे दिलों का मौसम जगमगया
फूलो कलियों की चरणों में
मन ये भीग जाए है
ओरी कमल नैना
प्रेम यही है समझा

सूखे पटन सा है
आश्रम वासी दिल
उनके आने की आस पर जिंदा है

हे प्रिये हे प्रिये
प्रीत क्यों शीत है
मेरे मन की तरह धरती भी दंग है
जितनी भी बर्फ हो जितने भी दर्द हों
इस नन्ही सी जान की सुरक्षा करो
उम्मीदो के सभी पत्ते मुरझा गए
जब ये फूलेंगे मैं खिलूंगी क्या
सर्दी से क्या लेना जब आई गोदभराई
चिंता ना करो प्रिये
खुद में तुम बसंत हो

माह-माह है बीत गए
लहर-लहर की तरह
सदा रहे जो खिलता हुआ
रत्न जन्म दो

राह वो देख के आंखें थक सी गई
दिल को उम्मीद है
आएंगे वो अभी

Related Song

Chedkhaniyan Lyrics in Hindi | Arijit Singh

Tu Mile Dil Khile Lyrics in Hindi | Stebin Ben, Asees Kaur