Hindi

qaafirana lyrics hindi |kedarnath

qaafirana lyrics hindi melody from film Kedarnath sung by Arijit Singh and Nikitha Gandhi. Verses of Qaafirana melody are composed by Amitabh Bhattacharya.

qaafirana lyrics hindi
qaafirana lyrics hindi

qaafirana lyrics in english info:

Song: Qaafirana
Movie: Kedarnath
Singer: Arijit Singh, Nikita Gandhi
Lyrics: Amitabh Bhattacharya
Music: Amit Trivedi

Inn waadiyon mein takra chuke hai
Humse musafir yun toh kayi
Dil na lagaya humne kisi se
Qisse sune hai yun toh kayi

Aise tum mile ho
Aise tum mile ho
Jaise mil rahi ho itr se hawa

Qaafirana sa hai
Ishq hai ya kya hai
Aise tum mile ho
Aise tum mile ho
Jaise mil rahi ho itr se hawa
Qaafirana sa hai
Ishq hai ya kya hai

(Music)

Khamoshiyon mein boli tumhari
Kuchh iss tarah goonjti hai
Kaano se mere hote huye wo
Dil ka pata dhoondhti hai
Beswadiyon mein, beswadiyon mein
Jaise mil raha ho koi zayka

Qaafirana sa hai
Ishq hai ya kya hai
Aise tum mile ho
Aise tum mile ho
Jaise mil rahi ho itr se hawa
Qaafirana sa hai
Ishq hai ya kya hai

(Music)

Zariye tumhare, dar pe khuda ke
Mattha bhu hum tek’te hai
Sabki nigaahe us pe tiki hai
Par hum tumhe dekhte hai

Tum sikha rahe ho
Tum sikha rahe ho
Jism ko hamare roohdaariyan

Qaafirana sa hai
Ishq hai ya kya hai
Aise tum mile ho
Aise tum mile ho
Jaise mil rahi ho itr se hawa
Qaafirana sa hai
Ishq hai ya kya hai

(Music)

Godhi mein pahadiyon ki
Ujli dopahri guzarna
Haaye haaye tere saath mein acha lage
Godhi mein pahadiyon ki
Ujli dopahri guzarna
Haaye haaye tere saath mein acha lage

Sharmeeli akhiyon se tera
Meri nazrein utaarna
Haaye haaye har baat pe, acha lage

Dhalti huyi shaam ne bataya hai
Ki door manzil pe raat hai
Mujhko tasalli hai yeh
Ki hone talak raat hum dono saath hai

Sang chal rahe hai
Sang chal rahe hai
Dhoop ke kinaare chhaaon ki tarah

Qaafirana sa hai
Ishq hai ya kya hai

इन वादियों में टकरा चुके हैं
हमसे मुसाफ़िर यूँ तो कई
दिल ना लगाया हमने किसी से
किस्से सुने हैं यूँ तो कई

ऐसे तुम मिले हो
ऐसे तुम मिले हो
जैसे मिल रही हो इत्र से हवा

क़ाफ़िराना सा है
इश्क है या क्या है
ऐसे तुम मिले हो
ऐसे तुम मिले हो
जैसे मिल रही हो इत्र से हवा
क़ाफ़िराना सा है
इश्क है या क्या है

(संगीत)

ख़ामोशियों में, बोली तुम्हारी
कुछ इस तरह गूंजती है
कानों से मेरे, होते हुए वो
दिल का पता ढूँढती है
बेसुवादियों में, बेसुवादियों में
जैसे मिल रहा हो कोई ज़ायक़ा

क़ाफ़िराना सा है
इश्क है या क्या है
ऐसे तुम मिले हो
ऐसे तुम मिले हो
जैसे मिल रही हो इत्र से हवा
क़ाफ़िराना सा है
इश्क है या क्या है

(संगीत)

ज़रिये तुम्हारे, दर पे खुदा के
मत्था भी हम टेकते हैं
सबकी निगाहें उसपे टिकी हैं
पर हम तुम्हें देखते हैं

तुम सिखा रहे हो
तुम सिखा रहे हो
जिस्म को हमारे रूहदारियाँ

क़ाफ़िराना सा है
इश्क है या क्या है
ऐसे तुम मिले हो
ऐसे तुम मिले हो
जैसे मिल रही हो इत्र से हवा
क़ाफ़िराना सा है
इश्क है या क्या है

(संगीत)

गोदी में पहाड़ियों की
उजली दोपहरी गुज़ारना
हाय हाय तेरे साथ में अच्छा लगे
गोदी में पहाड़ियों की
उजली दोपहरी गुज़ारना
हाय हाय तेरे साथ में अच्छा लगे

शर्मीली अँखियों से
तेरा मेरी नज़रें उतारना
हाय हाय हर बात पे अच्छा लगे

ढलती हुई शाम ने
बताया है कि दूर मंज़िल पे रात है
मुझको तसल्ली है ये
के होने तलक रात हम दोनों साथ है

संग चल रहे हैं
संग चल रहे हैं
धूप के किनारे छाँव की तरह

क़ाफ़िराना सा है
इश्क है या क्या है

This is wnd of lyrics Qaafirana song

Leave a Reply

Your email address will not be published.